नई दिल्ली । शीर्ष भारतीय महिला बैडमिंटन खिलाड़ी साइना नेहवाल ने कहा है कि वह आगामी ओलंपिक टूर्नामेंट के लिए क्वालीफाई  करने को लेकर परेशान नहीं है। उसका लक्ष्य अभी अपनी फिटनेस को बनाये रखना है। साइना अभी विश्व बैडमिंटन महासंघ (बीडब्ल्यूएफ) में 22वीं रैंकिंग की खिलाड़ी हैं और टोक्यो ओलंपिक में क्वालीफाई करने के लिए उन्हें शीर्ष-13 में जगह बनानी होगी। साइना ने कहा, " क्वालीफिकेशन  अवधि के दौरान मैं केवल अपनी चोट और अपनी फिटनेस में सुधार करने के प्रयास कर रही हूं और मैं प्रतियोगिताओं में बेहतर प्रदर्शन करने के लिए उत्साहित हूं। ओलंपिक के लिए क्वालीफाई करने को लेकर मैं अभी ज्यादा नहीं सोच रही हूं।"उन्होंने कहा, "मैंने कुछ सप्ताह के लिए ब्रेक लिया। मेरे टखने और पिंडली के साथ कुछ समस्याएं थी और मुझे एक ब्रेक की जरुरत थी इसलिए यह अच्छा था। एक बार जब मैंने वापस अभ्यास शुरू किया तो जाहिर है, मुझे पता था कि वापस आने में कुछ महीने लगेंगे क्योंकि मुझे अपनी फिटनेस के लिए धीरे-धीरे आगे बढ़ने की जरूरत है हालांकि यह अच्छा था। हम यह भी जानते थे कि टूर्नामेंट शुरू होने से पहले हमारे पास पर्याप्त समय था।" साइना के 13 से 18 अक्टूबर तक डेनमार्क ओपन में लौटने की उम्मीद थी, लेकिन उसने इससे नाम वापसी ले लिया।